राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस के अवसर पर  कृषि महाविद्यालय ने किया निःशुल्क स्वास्थ्य चिकित्सा शिविर-सह-कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम का आयोजन।


 

रिपोर्ट - पारस सोना

पूर्णिया/भोला पासवान शास्त्री कृषि महाविद्यालय, पूर्णियाँ की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के देखरेख में  24 सितम्बर को राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय सेवा इकाई योजना इकाई एवं शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, पूर्णिया सिटी के संयुक्त तत्वावधान में निःशुल्क स्वास्थ्य चिकित्सा शिविर-सह-कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम का आयोजन  किया गया। सह अधिष्ठाता-सह-प्राचार्य डा॰ पारस नाथ एवं विशिष्ट अतिथि डा॰ बिनोद कुमार तथा महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं एवं शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, पूर्णिया सिटी के चिकित्सा दल के सदस्यों द्वारा कार्यक्रम का संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर विधिवत उद्घाटन किया गया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में  उपस्थित सभी लोगो के बीच कोविड-19 से बचाव हेतु स्वच्छता किट जिसमें सैनिटाइजर, मास्क, हैण्डवाश, ग्लब्स आदि का वितरण कृषि महाविद्यालय, पूर्णियाँ की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा किया गया। इस अवसर पर निःशुल्क स्वास्थ्य जाँच शिविर का आयोजन किया गया जिसमें महाविद्यालय परिवार के कुल 315 वैज्ञानिकों, शिक्षकेत्तर कर्मचारियों, कृषक प्रशिक्षणार्थियों, एनसीसी कैडेट्स, राष्ट्रीय सेवा  योजना के स्वयं-सेवक छात्र/छात्राओं के साथ-साथ कर्मचारियों तथा कृषि कार्य मे संलग्न सभी श्रमिकों का भी स्वास्थ्य  जांच करवाया गया और स्वास्थ्य केन्द्र, पूर्णिया सिटी केे द्वारा निःशुल्क औषधि का वितरण भी किया गया। कुल 55 लोगों को कोविशील्ड वैक्सीन का दूसरा डोज दिया गया।
           महाविद्यालय के प्राचार्य डा॰ नाथ ने अपने सम्बोधन में कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना के द्वारा विगत वर्षों में विशेष रूप से किए गए कार्य चार बार स्वैच्छिक रक्तदान शिविर के माध्यम से कई जरूरतमन्द लोगों की जान बचाई, जो कि बहुत ही प्रशंसनीय कार्य है। उन्होंने राष्ट्रीय सेवा योजना के महत्व की विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुए कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना का सिद्धान्त वाक्य मुझकों नहीं तुमको ;छवज उम ठनज लवनद्ध हैं, जो निः स्वार्थ सेवा की आवश्यकता का समर्थन करता है। राष्ट्रीय सेवा योजना का प्रतीक चिन्ह उड़ीसा के कोणार्क सूर्य मंदिर के रथ के चक्र पर आधारित है, जो जीवन के प्रगतिशील चक्र को व्यक्त करता है। इस रथ में कुल 24 पहिये है, जो एक सम्पूर्ण दिन के 24 घण्टे का प्रतिनिधित्व करता है। इसका लक्ष्य शिक्षा के द्वारा सामुदायिक सेवा एवं सामुदायिक सेवा के द्वारा छात्रों के व्यक्तित्व का विकास है।   टीकाकरण कार्यक्रम के द्वारा महाविद्यालय के सभी सदस्यों को शत् प्रतिशत प्रथम डोज एवं 90 प्रतिशत द्वितीय डोज प्रदान किया गया। प्राचार्य द्वारा उपस्थित सभी छात्र-छात्राओं को स्वच्छता हेतु शपथ दिलायी गई तथा स्नातक प्रथम वर्ष के छात्र दीपक द्वारा बनाये गए पोस्टर हेतु प्रथम पुरस्कार एवं अभिषेक को द्वितीय पुरस्कार तथा आदित्य को तृृतीय पुरस्कार हेतु प्रमाण पत्र प्रदान किया गया।
          राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम पदाधिकारी डा॰ पंकज कुमार यादव द्वारा महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई का वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया जिनमें बताया गया कि राष्ट्रीय सेवा योजना  के अन्तर्गत वर्ष 2020 से 2021 में सभी महत्वपूर्ण दिवसों पर विभिन्न कार्यक्रमो का आयोजन किया गया है।  कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि डा॰ बिनोद कुमार, मुख्य वैज्ञानिक शस्य विज्ञान, डा॰ राजेन्द्र प्रसाद केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय, पूसा समस्तीपुर ने उपस्थित सभी छात्र-छात्राओं को जंक फुड के हानिकारक प्रभाव के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान किया तथा बताया कि इस प्रकार के खाद्य पदार्थों के प्रयोग से मोटापे की समस्या तेजी से बढ़ रही है। आज विश्व में सबसे अधिक मोटे व्यक्तियों की संख्या अमेरिका में, दूसरे स्थान पर चीन एवं तीसरे स्थान पर भारत है।डॉ आर पी सिंह शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, पूर्णिया सिटी के प्रभारी चिकित्सक ने बताया कि हम सभी को प्रत्येक तीन माह में अपने स्वास्थ्य की जाँच अवश्य करानी चाहिए तथा अपने जीवन शैली को नियंत्रित करने की जरूरत है।राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस समारोह के अवसर पर महाविद्यालय के अन्य वैज्ञानिक डा॰ जनार्दन प्रसाद, डा0 पंकज कुमार यादव, डा॰ अनिल कुमार डॉ0 रवि केसरी, डॉ0 जी0 एल0 चौधरी,  डा॰ तपन गोरई, सुश्री प्रियंका कुमारी, अभिनव कुमार, डा॰ विकास कुमार, डा॰ अनुज चौधरी, डा॰ सुदय प्रसाद, डा॰ शम्भुनाथ, एवं छात्र/छात्राओं ने उत्साह पूर्वक भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन स्नातक कृषि प्रथम वर्ष के छात्र योगेश कुमार एवं  राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम पदाधिकारी डा॰ पंकज कुमार यादव तथा धन्यवाद ज्ञापन वरीय वैज्ञानिक डा॰ जनार्दन प्रसाद द्वारा किया गया।





Related Post